Intraday Trading In Hindi | Intraday Trading Tips In Hindi In 2022

Intraday Trading in Hindi | Intraday Trading Tips in Hindi | Intraday Trading Kya hai | Intraday Trading kya hota hai

नमस्कार दोस्तों आज हम शेयर मार्किट के बहुत ही महत्वपूर्ण ट्रेडिंग ऑप्शन के बारे में बात करेंगे जिसे Intraday Trading के नाम से जाना जाता है और इस ट्रेडिंग में Square off करने का ऑप्शन मिलता है और यह ट्रेडिंग करने का सबसे अच्छा फीचर भी है यहाँ पर एक ट्रेडर लाभ प्राप्त करने के लिए काफी मात्रा में शेयरों को खरीदता है और खरीदे गए शेयर को उसी दिन के अंत तक अपने सभी शेयरों को बेचना होता है यानी कि स्क्वायर ऑफ करना होता है और इसी को ही इंट्रा डे ट्रेडिंग व डे ट्रेडिंग कहते हैं

इंट्राडे ट्रेडिंग | Intraday Trading in Hindi

दोस्तों सीधी से बात है एक ही दिन स्टॉक या शेयर को खरीदना व बेचना इंट्रा डे ट्रेडिंग कहलाता है और दोस्तों आप इंट्रा डे ट्रेडिंग में रणनीति से तहत जल्दी अच्छा पैसा बन सकते है डिलीवरी ट्रेडिंग के मुकाबले

उदाहरण के लिए मान लीजिये

यदि एक ट्रेडर ने दिन के सुबह में टाटा मोटर्स कंपनी के 100 शेयर को ₹400 प्रति शेयर के भाव पर खरीदता है और उसी दिन ट्रेडिंग सेशन बंद होने से पहले अपने सभी शेयर को ₹420 प्रति शेयर पर बेच देता है इस प्रक्रिया को हम कह सकते है कि एक ट्रेडर ने दिन के अंत में अपने सारे शेयरों को स्क्वायर ऑफ कर दिया है यानि की उसे सेल ऑफ कर दिया और इस प्रक्रिया को हम इंट्रा डे ट्रेडिंग कहते है

दोस्तों शेयर मार्किट में ट्रेडिंग करने कई ऑप्शन मिलते है जैसे इंट्राडे ट्रेडिंग, फ्यूचर ट्रेडिंग, ऑप्शन ट्रेडिंग, डिलीवरी ट्रेडिंग आदि यह ट्रेडिंग करने के सबसे अच्छे ऑप्शन है

दोस्तों हर शेयर ब्रोकर का स्क्वायर ऑफ टाइम अलग अलग होता है कई शेयर ब्रोकर में मार्किट से क्लोज होने से ठीक पहले स्क्वायर ऑफ कर सकते है और कई शेयर ब्रोकर में आप मार्किट क्लोज होने से 10 से 20 मिनट से पहले स्क्वायर ऑफ करना होता है और इंट्राडे ट्रेडिंग सेशन के दौरान यदि आप शेयरो को स्क्वायर ऑफ नहीं कर पाए तो अपने आप ही सेल ऑफ हो जाता है चाहे मुनाफा हो या फायदा इसलिए इंट्राडे ट्रेडिंग में ब्रोकरेज फीस ज्यादा भी लगती है और इसकी यही खास बात है कि इसमें आप जल्दी अच्छा मुनाफा कमा सकते है

Intraday Trading Tips in Hindi 2022

Intraday Trading Tips in Hindi

  • इंट्राडे ट्रेडिंग करते वक्त हमेशा सही शेयरो का चुनाव करना चाहिए जिसमे लिक्विडिटी ज्यादा हो और आप इस तरह के दो या तीन शेयरो को चुन सकते है
  • आप इंट्राडे ट्रेडिंग में शेयर को खरीदते वक्त यह जरूर तय कर ले कि आप किस प्राइस में शेयर को खरीदना चाहते है और उस कंपनी की पोर्टफोलियो जरूर चेक ले और आपको रणनीति के तहत ट्रेडिंग करनी होगी
  • इंट्राडे ट्रेडिंग करते वक्त स्टॉप लॉस जरूर तय कर ले और स्टॉप लॉस लगाने से निवेशकों का होने वाला नुकसान को कुछ हद तक सीमित कर सकता है
  • दोस्तों इंट्राडे ट्रेडिंग करते वक्त आपको टारगेट सेट करना होगा कि आप किस भाव में खरीदना है और शेयर का लक्ष्य कितना है जैसे ही लक्ष्य पूरा होते दिखे तो आपने शेयर को बचे भी सकते है
  • दोस्तों आपको वोलेटाइल शेयरो से दुरी रखनी होगी और निवेशको को उतार – चढ़ाव वाले शेयरो से दुरी भी रखनी चाहिए इसलिए किसी शेयरो में इन्वेस्ट करने से पहले आप बाजार का ट्रेड जरूर चेक कर ले

डिस्क्लेमर: हम यहाँ Intraday Trading in Hindi इस आर्टिकल के बारे में जानकारी दे रहे हैं न कि किसी निवेश को सलाह और Intraday Trading Tips मार्केट एक्सपर्ट्स के सुझावों पर आधारित हैं और शेयर बाजार के अपने जोखिम होते हैं इसलिए किसी शेयर निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय जरूर लें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *