सुकन्या समृद्धि योजना | Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi इस आर्टिकल में हम आपको इस योजना से जुड़ी सारी जानकारी देंगे और यह सुकन्या समृद्धि योजना को भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान के तहत लड़कियों की बेहतरी और प्रत्येक परिवार में लड़कियों के लिए सुकन्या समृद्धि योजना शुरू की गई है

Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

sukanya samriddhi yojana in hindi

Sukanya Samriddhi Yojana पात्रता

सुकन्या समृद्धि योजना की पात्रता निम्लिखित इस प्रकार है 

  • माता पिता या क़ानूनी अभिभावक बालिका की और से 10 वर्ष  की आयु तक खाता खोल सकते है 
  • बालिका भारत की निवासी होनी चाहिए 
  • एक परिवार में दो लड़किया के लिए ही यह योजना मान्य  है उससे अधिक के लिए नहीं है 
  • जुड़वाँ लड़कियों के मामले म एही तीसरा खाता  खोला जा सकता है 

Sukanya Samriddhi Yojana के लाभ 

  • इस योजना का पहला लाभ तो यही है कि लड़कियों को आर्थिक आजादी मिलती है 
  • माता पिता का आर्थिक बोझ  भी हल्का होता है 
  • आयकर अधिनियम 1961  की धारा  80 C के तहत योजना के लिए गए योगदान 1.5 लाख रुपये तक का कर लाभ प्रदान किया जाता है 
  • जो लाभ राशि उत्पन्न होती है वह भी कर मुक्त होती है 
  • परिपक़्वता राशि के लिए भी कर में छूट प्रदान की जाती है 

Sukanya Samriddhi Yojana के ब्याज दर 

  • सुकन्या समृद्धि योजना की  ब्याज दर प्रति वर्ष सरकार द्वारा  आर्थिक  विकास की  गति के हिसाब से निधरित  की  जाती है  जो की 1 अप्रैल 2014  की 9.1 से घटकर अब  अप्रैल 2020  में  7.6  रह  गयी है 
  •  सुकन्या समृद्धि योजना  में आप सालाना 500 रुपए  से सालाना  1.5  लाख  तक रकम  जमा  कर सकते  है  यह आपके  पारिवारिक  आर्थिक स्तिथि  के हिसाब पर निर्भर करता है 

Sukanya Samriddhi Yojana के आवश्यक दस्तावेज 

खाता खोलने के आवश्यक दस्तावेज  कुछ इस प्रकार है 

  • खाता खुलवाते समय बालिका का जन्म प्रमाण पत्र  जमा करना होगा 
  • खाता खोलते समय जमाकर्ता का आईडी प्रूफ जैसे आधार कार्ड , वोटर आईडी आदि एड्रेस प्रूफ (निवास प्रमाण ) आदि जमा करना होगा 
  • जन्म के मामले में चिकिसा द्वारा को प्रूफ या प्रमाण पत्र 

खाता कहाँ खुलवाए  – RBI  द्वारा मान्यता प्राप्त किसी भी बैंक या भारतीय डाक घर  में आप खाता खुला सकते है 

Sukanya Samriddhi Yojana की समय सीमा

सुकन्या समृद्धि योजना  की समय सीमा कुछ इस प्रकार निधरित की गयी है 

  •  बालिका के जन्म से उसके 10 वर्ष की अवस्था पार करने से पहले तक ही खाता खोला  सकते है 
  •  खाता  खोलने के टाइम से  इसके लिए 21 वर्ष की परिपक्वता अवधि का निधरणा किया गया है 
  •  बालिका के 18  वर्ष की आयु प्राप्त  करने  के उपरान्त उसके शादी या उसकी उच्च शिक्षा हेतु पैसो को निकाल सकते है ( जमा अवधि 15 वर्ष तक की है )

कुछ और महत्वपूर्ण  बाते 

  • प्रत्येक  बालिका  जो 10 वर्ष  की आयु  सीमा से कम हो तो वह इसका  लाभ ले सकती है 
  • कोई भी भारतीय  जो NRI  हो वह फ़िलहाल  तो वह Sukanya Samriddhi Yojana अंतगत  नहीं आते है 
  • अगर किसी बालिका की आपर्तिक मृत्यु  हो  जाती है  और सुकन्या समृद्धि खाता  बंद कर दिया है  तब  आय  को बालिका के अभिभावक या माता  पिता को हस्तांतरित  कर दिया है 
  • अगर जामकर्ता (बालिका  के माता पिता )  की  मृत्यु  हो जाती है  तो और योजना  बंद  कर दी  जाती है तो आय को परिवार  या बालिका  को दी जाती है  या जमा   राशि  को योजना की परिपक़्वता अवधि तक  जारी  रखा जाता है  तो ब्याज  मिलता रहेगा  जब तक बालिका 21  वर्ष की  आयु प्राप्त नहीं कर लेती है 
  •  सुकन्या समृद्धि योजना  केंद्र  सरकार की योजना  है  यह  पूरे  देश और प्रत्येक  राज्य  में उपलब्ध है 
  • इस योजना  के खाते को  को डाक घर या  बैंक  से दूसरे बैंक या डाक घर  में स्थान्तरिकत  किया  जा सकता है  ऐसा इसलिए  है  क्योकि  बालिका को पढाई लिखाई के  कारण  इधर-उधर  आना जाना पड़ सकता है 
  • प्रत्येक  बालिका के नाम केवल एक ही  खाता खोल सकते है 
  • अगर  खाते में न्यूनतम 250 रुपये भी  साल में जमा  नहीं किया गया तो  खाता  निष्क्रिय  हो जायेगा  परन्तु  50 रुपये का जुर्माना   भर कर  खाता पुन चालू किया जा सकता है 
  • सभी खाता धारको को लेन देन ट्रेक करने के  लिए एक पास बुक  भी जारी  जाती है 

यह भी पढ़े : म्यूच्यूअल फंड क्या है 

मै आशा करता हूँ आपको हमारे द्वारा दी गई Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi में  संक्षिप्त जानकारी  पसंद आयी होगी 

Leave a Reply

Your email address will not be published.